मंगलवार, 26 जनवरी 2016

पद्म एवं रत्न सम्मान सूची - बूझो तो जानें

पद्म एवं रत्न सम्मान सूची – बूझो तो जानें
शेखचिल्ली रत्न (अता-पता – नाक के सुर बोल-बोल कर ये सबकी नाक में दम कर देते हैं)
ऊल-जलूल बकवास रत्न (अता-पता – माँ का लाड़ला अब बिना डायपर पहने भी घर के बाहर जाने लगा है)
शिक्षा-तरु जड़ से उखाडू रत्न (अता-पता – ये बिन डिग्री ही सभी विद्वानों की जबरन नानी बन बैठी हैं)
चाटुकार भूषण (अता-पता – सर रूपी छत पर बच्चों के फिसलने के लिए अत्यंत चिकना स्लाइडर लगा हुआ है)
अंगद सीमेंट रत्न (अता-पता – ये बरसों से टी-ट्वेंटी और वन डे में स्लो मोशन में 10 का एवरेज दे रहे हैं पर टीम में अंगद के पाँव समान जमे हुए हैं)
सेना कुल-कलंक भूषण एवं मंत्रिमंडल-कलंक भूषण (अता-पता - इन मितभाषी, मृदु-भाषी और महा-सत्यवादी की अगली जन्मकुंडली इन्हें सोलह बरस का बना देगी)
दंगा रत्न (अता- पता – दिलीप कुमार जैसी लच्छेदार उर्दू में लफ्फाज़ी करने में ये लाजवाब हैं और इनकी भैसों की खोज ‘भारत की खोज’ से भी अधिक महत्वपूर्ण सिद्ध हो चुकी है)         
ग्रैंड कम बैक रत्न (अता-पता - अपने घर में ही पूरी क्रिकेट टीम तैयार करने वाला यह महारथी और चीज़ें खाने के अलावा, बिना चुनाव लड़ें भी इतने वोट खा जाता है कि विरोधी बे-चारा हो जाता है)  
धरना रत्न (अता-पता – खुल्ल-खुल्ल, खों-खों)     

4 टिप्‍पणियां:

  1. लगे रहिये । रत्न भंडार में बहुत से रत्न और जुड़ेंगे । बाकी सारे कोयले के कोयले ही रहेंगे ।

    उत्तर देंहटाएं
  2. इन सभी रत्नों को फिर से खानों में फिर से गाड़ने या समुद्र में वापस डालने का समय आ गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  3. इन सभी रत्नों को फिर से खानों में फिर से गाड़ने या समुद्र में वापस डालने का समय आ गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  4. इन रत्नों को फिर से खानों में गाड़ने या समुद्र में वापस डालने का या पद्मों को कीचड़ में वापस फेंकने का उचित समय आ गया है.

    उत्तर देंहटाएं